रो लेते हैं कभी कभी,
ताकि आंसुओं को भी कोई शिकायत ना रहे।