Koshish n karu

कोशिश न कर तू सभी को ख़ुश रखने की,

नाराज तो यहाँ कुछ लोग भगवान से भी हैं,

मन की बात कह देने से फैसले हो जाते हैं,

और मन में रख लेने से फासले हो जाते हैं!