​Dosti Shayari in Hindi on Aap Jaisa Dost

कुछ खोये बिना हमने पाया है,

कुछ मांगे बिना हमें मिला है,

नाज़ है हमें अपनी तक़दीर पर,

जिसने आप जैसे दोस्त से मिलाया है..